Search
Close this search box.

इसरो में जश्न की तैयारी, जारी की दो तस्वीरें

नई दिल्ली। चंद्रयान-3 मिशन को लेकर इसरो में जश्न की तैयारी है। इसरो ने अपने कमांड सेंटर की दो तस्वीरें जारी की हैं। एक्स पर किए गए पोस्ट में इसरो ने बताया कि लैंडर मॉड्यूल की लैंडिंग की प्रक्रिया 17.44 पर शुरू हो जाएगी। सेंटर से कमांड मिलने के बाद लैंडर मॉड्यूल अपने इंजनों को शुरू करेगा और मिशन ऑपरेशन टीम लगातार इसे कमांड भेजेगा। इस पूरी प्रक्रिया का लाइव टेलीकास्ट शाम 5 बजकर 20 मिनट से शुरू हो जाएगा।
कम बजट में चांद के दक्षिणी ध्रुव पर लैंडर उतारना बड़ी उपलब्धि होगी
चंद्रयान-3 मिशन पर अंतरिक्ष रणनीतिकार पी.के. घोष ने चंद्रयान-3 मिशन की सफलता पर भरोसा जताते हुए कहा, “मुझे लगता है कि यह भारत के लिए बहुत बड़ा दिन है।कारण यह है कि चंद्रयान 2 लैंडिंग नहीं कर सका था और अब हम पूरी दुनिया को दिखाना चाहते हैं कि हमारे पास न केवल तकनीकी क्षमता है बल्कि हमारे पास दक्षिणी ध्रुव पर जाकर सॉफ्ट लैंडिंग करने की भी क्षमता है। दक्षिणी ध्रुव एक ऐसा क्षेत्र है जहाँ अब तक कोई लैंडिंग नहीं हुई है…पहले की सभी लैंडिंग भूमध्य रेखा के अंदर और उसके आसपास हुई हैं। दक्षिणी ध्रुव पर उतरना कठिन है और इसलिए इतने कम बजट में ऐसा करना भारत के लिए एक बड़ी उपलब्धि है। यह एक बड़ा दिन है।”
चंद्रयान-3 मिशन पर इसरो के संस्थापक विक्रम साराभाई के बेटे कार्तिकेय साराभाई ने प्रतिक्रिया दी। उन्होंने कहा, “यह एक बड़ा दिन है। यह सिर्फ भारत ही नहीं बल्कि इस ग्रह पर किसी के लिए भी इतनी सटीकता से इसे भेजने के लिए एक शानदार बात है जिसके साथ हम चंद्रयान -3 भेजने में सक्षम हुए हैं और वह भी एक ऐसी प्रक्रिया के माध्यम से जो दूसरों से अलग है… विज्ञान और इंजीनियरिंग में, हम गलतियों से सीखते हैं…यह मानवता के लिए बहुत बड़ी बात होगी क्योंकि चंद्रमा के दक्षिणी हिस्से पर आज तक कोई नहीं उतर सका है।”
चंद्रयान 3 मिशन पर केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा, “आज इतिहास रचा जाएगा जब पीएम मोदी के नेतृत्व में चांद पर भारत का झंडा लहराएगा। पूरा देश इस पल का बेसब्री से इंतजार कर रहा है। वैज्ञानिकों और सरकार की पिछले 9 साल की मेहनत आज पूरी होगी।
पद्मश्री विजेता वैज्ञानिक बोले- अब तक सब बहुत अच्छा
चंद्रयान-3 पर पद्म श्री पुरस्कार विजेता और पूर्व इसरो वैज्ञानिक मायलस्वामी अन्नादुरई ने कहा, “अब तक सब बहुत अच्छा है और हमें उम्मीद है कि योजना ‘A’ के अनुसार आज हम उतरने में सक्षम होंगे…किसी भी अन्य की तरह, मैं भी काफी हद तक इंतजार कर रहा हूं। चंद्रयान 1 द्वारा पानी की खोज के बाद दुनिया चंद्रमा को अलग ढंग से देखने की कोशिश कर रही थी।”

Newsworldvoice.com ( News World Voice ) एक लोकप्रिय राष्ट्रीय हिन्दी न्यूज़ वेबसाइट है। इस न्यूज़ वेबसाइट के माध्यम से हम सभी ताजा खबरें और समाज से जुड़े सभी पहलुओं को आपके सामने प्रस्तुत करते है।

लगभग 25 लाख से अधिक व्यूज के साथ लगभग 1 लाख से अधिक दर्शक हमारे साथ जुड़ चुके है

अपने किसी भी सुझाव के लिए आप हमे newsworldvoice@gmail.com पर और व्हाट्सअप नंबर 8979456781 पर संपर्क करे

Leave a Comment