Search
Close this search box.

…तो यूपी का भी होगा अपना नया विधान भवन

– पूर्व प्रधानमंत्री की जयंती पर आधारशिला रखने की तैयारी

लखनऊ। अगर सबकुछ ठीक रहा तो जल्द ही यूपी को भी नया विधान भवन मिल जाएगा। दिल्ली में संसद भवन की तर्ज पर यूपी में भी नए विधान भवन बनाने की तैयारी की जा रही है। इसके लिए वर्ष 2023-24 के आम बजट में टोकन के तौर पर 50 करोड़ रुपये का प्रावधान भी किया जा चुका है। योगी सरकार का लक्ष्य है कि 18वीं विधानसभा के कम से कम एक सत्र का आयोजन नए भवन में हो। मौजूदा भवन का उद्घाटन 1928 में हुआ था।
कुछ समय पहले प्रदेश में नए विधान भवन निर्माण के लिए कंसल्टेंट का चयन किया गया था। बताते हैं कि कंसल्टेंट ने सर्वे और मिट्टी की जांच का काम पूरा कर लिया है। उसके सर्वे के नतीजे को फिलहाल काफी गोपनीय रखा जा रहा है।
सूत्रों के मुताबिक लोक भवन के पीछे दारुलशफा के पुराने भवन को ढाया जाएगा। आवश्यकता के अनुरूप अन्य भवनों को भी इसके दायरे में लाया जा सकता है। 25 दिसंबर को शिलान्यास की तैयारी की जा रही है। प्रयास रहेगा कि साल 2027 से पहले इसका निर्माण पूरा कर लिया जाए।

1922 में रखी गई थी मौजूदा विधानभवन की नींव

मौजूदा विधानभवन की नींव 15 दिसंर, 1922 को तत्कालीन गवर्नर सर स्पेंसर हरकोर्ट बटलर द्वारा रखी गई थी। करीब छह साल में तैयार हुए इस भवन का 21 फरवरी, 1928 को उद्घाटन हुआ। निर्माण कलकत्ता की मेसर्स मार्टिन एंड कंपनी द्वारा किया गया। मुख्य आर्किटेक्ट सर स्विनोन जैकब और हीरा सिंह थे। उस समय निर्माण के लिए 21 लाख रुपये स्वीकृत हुए थे। यह भवन का स्थापत्य यूरोपियन व अवधी निर्माण की मिश्रित शैली का उत्कृष्ट उदाहरण है। मौजूदा विधानसभा में फिलहाल 403 विधायकों को बैठने की व्यवस्था है।

 

Newsworldvoice.com ( News World Voice ) एक लोकप्रिय राष्ट्रीय हिन्दी न्यूज़ वेबसाइट है। इस न्यूज़ वेबसाइट के माध्यम से हम सभी ताजा खबरें और समाज से जुड़े सभी पहलुओं को आपके सामने प्रस्तुत करते है।

लगभग 25 लाख से अधिक व्यूज के साथ लगभग 1 लाख से अधिक दर्शक हमारे साथ जुड़ चुके है

अपने किसी भी सुझाव के लिए आप हमे newsworldvoice@gmail.com पर और व्हाट्सअप नंबर 8979456781 पर संपर्क करे

Leave a Comment