Search
Close this search box.

विजिलेंस अफसरों को चोर समझकर बनाया बंधक

– छापेमारी के लिए तड़के पहुंची थी टीम

मेरठ। हस्तिनापुर क्षेत्र के एक गांव छापेमारी करने पहुंची विजिलेंस टीम को ग्रामीणों ने बंधक लिया। सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और टीम को मुक्त कराया।
मामला हस्तिनापुर क्षेत्र के गांव रानी नगला का है। शुक्रवार तड़के करीब तीन बजे विजिलेंस की टीम गांव में छापामारी के लिए पहुंची तो ग्रामीणों ने चोर समझकर टीम को बंधक बना लिया। दरअसल, ग्रामीणों को इतनी सुबह छापेमारी की जरा भी भनक नहीं थी। ग्रामीणों ने सोचा कि गांव में चोर आ गए और विजिलेंस टीम के अधिकारियों को बंधक बना लिया। सुबह तक उन्हें बंधक बनाए रखा। वहीं, टीम को बंधक बनाकर उच्च अधिकारियों को मौके पर बुलाने की मांग की गई।
जानकारी लगने पर थाना पुलिस मौके पर पहुंची और बमुश्किल टीम को मुक्त कराया। इतनी सुबह की गई छापेमारी से आक्रोशित ग्रामीण व भारतीय किसान यूनियन के सैकड़ों पदाधिकारी मौके पर पहुंच गए। उनका कहना है कि जिलाधिकारी और विद्युत विभाग के अधिकारियों के सख्त निर्देश हैं कि बिना सूचना के रात में किसी के घर में कोई छापामारी नहीं की जाएगी।
विजिलेंस के अधिकारियों की मनमानी चल रही है, जिस कारण ग्रामीण चोरी की घटनाओं के शिकार हो रहे हैं।