Search
Close this search box.

नवाब मलिक को मिली दो माह की अंतरिम जमानत

सुप्रीमकोर्ट ने मेडिकल आधार पर दी राहत
दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट ने मनी लॉन्ड्रिंग केस में महाराष्ट्र के पूर्व मंत्री नवाब मलिक को मेडिकल आधार पर दो महीने की अंतरिम जमानत दे दी। मलिक ने प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) द्वारा जांच किए जा रहे केस में मेडिकल आधार पर जमानत देने से इनकार करने के बंबई हाईकोर्ट के 13 जुलाई के आदेश के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट का रुख किया था।
जस्टिस अनिरुद्ध बोस और बेला एम त्रिवेदी की पीठ ने कहा कि मलिक गुर्दे की बीमारी और अन्य बीमारियों के कारण अस्पताल में हैं। पीठ ने कहा, “हम चिकित्सा शर्तों पर सख्ती से आदेश पारित कर रहे हैं और मामले की योग्यता में नहीं जा रहे हैं।”
गौरतलब है कि ईडी ने कथित तौर पर भगोड़े गैंगस्टर दाऊद इब्राहिम और उसके सहयोगियों की गतिविधियों से जुड़े मामले में मलिक को फरवरी 2022 में गिरफ्तार किया था। राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के नेता न्यायिक हिरासत में हैं और वर्तमान में मुंबई के एक निजी अस्पताल में उनका इलाज चल रहा है।