Search
Close this search box.

भाकियू के ट्रैक्टर मार्च में उमड़े किसान

मेरठ में उर्जा भवन पर दिया धरना, उठाईं मांगें

मुजफ्फरनगर/मेरठ। भारतीय किसान यूनियन की ओर से किसानों की समस्याओं को लेकर आज ट्रैक्टर तिरंगा मार्च निकाला गया। मुजफ्फरनगर से शुरू हुआ भाकियू का ट्रैक्टर मार्च मेरठ के उर्जा भवन तक पहुंचा। भाकियू प्रवक्ता चौधरी राकेश टिकैत ने कहा कि किसानों की हालत दयनीय है। बाढ़ से फसलें चौपट हो गई है। किसानों को बड़ी राहत दी जानी चाहिए। तिरंगा मार्च देहात क्षेत्रों से शुरू हुआ जो मेरठ के ऊर्जा भवन पर समाप्त हुआ।
मेरठ में भी किसानों की समस्याओं को लेकर भारतीय किसान यूनियन की ओर से शुक्रवार को तिरंगा ट्रैक्टर मार्च निकाला गया। मेरठ में सरधना, मवाना तहसील समेत कई गांवों से भाकियू कार्यकर्ता और किसान ट्रेक्टर में सवार होकर ऊर्जा भवन पहुंचे। इस दौरान साकेत चौराहे पर जाम की स्थिति बनी रही। किसान ऊर्जा भवन पहुंच कर यहां धरने पर बैठ गए।
जिला अध्यक्ष अनुराग ने किसानों की बिजली से संबंधित समस्याओं को उठाया। उन्होंने कहा कि बिजली बिल के नाम पर किसानों का उत्पीड़न किया जा रहा है। अनाप शनाप बिल बनाकर भेजे जा रहे है। उन्होंने खाद गोदामो पर खाद न होने की समस्या, गन्ना भुगतान न होने, आवारा पशु आदि समस्याओं को उठाया।
राकेश टिकैत के बेटे चरण सिंह टिकैत भी पंचायत में पहुंचे। चौधरी चरण सिंह ने कहा कि गन्ना भुगतान न होना, गन्ने के दाम में वृद्धि न होना, बिजली फ्री न होना किसानों की मुख्य समस्या है।